Punjab: Drugs Again Arrived From China Made Drone, Packets Of Heroin Found In Amritsar And Tarn Taran – Amar Ujala Hindi News Live

0
11


Punjab: Drugs again arrived from China made drone, packets of heroin found in Amritsar and Tarn Taran

ड्रोन से आया नशीला सामान
– फोटो : एएनआई

विस्तार


अमृतसर में शनिवार को बीएसएफ ने हरदो रतन गांव से एक ड्रोन बरामद किया है। ड्रोन के साथ 520 ग्राम वजन का संदिग्ध हेरोइन का एक पैकेट भी मिला है। नशीला पदार्थ पारदर्शी चिपकने वाली टेप से लपेटा हुआ था और पैकेट से एक स्टील की अंगूठी भी जुड़ी हुई मिली। बरामद ड्रोन की पहचान चीन निर्मित डीजेआई माविक 3 क्लासिक के रूप में हुई है। बीएसएफ पीआरओ पंजाब फ्रंटियर ने यह जानकारी दी है। 

शनिवार को ही बीएसएफ और पंजाब पुलिस ने गांव सांकटरा से 2.175 किलोग्राम वजन वाली संदिग्ध हेरोइन का 1 पैकेट और गांव टीजे सिंह से 569 ग्राम वजन वाली संदिग्ध हेरोइन का एक पैकेट बरामद किया। नशीला पदार्थ पीले रंग के चिपकने वाले टेप और धातु की अंगूठी में लपेटा हुआ था। पैकेटों में रोशन करने वाली छड़ियां लगी हुई थीं। 

लोकसभा चुनाव के दौरान पाकिस्तान ने पंजाब में ड्रोन के जरिए ‘हथियार’ और ‘नशे’ के पैकेट गिराने की रफ्तार बढ़ा दी है। पहले सप्ताह में दो चार ड्रोन आते थे, वहीं दो सप्ताह में अब डेढ़ दर्जन से अधिक ड्रोन बरामद हो रहे हैं। पंजाब में अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगते गांवों के खेतों में बीएसएफ के सतर्क जवान, महज 24 घंटे में ही तीन से चार ड्रोन बरामद कर रहे हैं। खास बात है कि बीएसएफ द्वारा बरामद किए गए सभी ड्रोन चीन निर्मित हैं।

इंटेलिजेंस एजेंसियों के सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान को चीन से हजारों ड्रोन की एक बड़ी खेप प्राप्त हुई है। अब पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने ये ड्रोन आतंकियों, घुसपैठियों और तस्करों को मुहैया कराए हैं। पाकिस्तान की सीमा से ये ड्रोन पंजाब के सीमावर्ती गांवों के खेतों में भेजे जा रहे हैं। अधिकांश ड्रोन के साथ पीले रंग की टेप वाला एक पैकेट रहता है। उसमें हथियार या ड्रग्स के छोटे पैकेट होते हैं।

पाकिस्तान को चीन से ड्रोन की बड़ी खेप हासिल हुई

पाकिस्तान को चीन से भारी मात्रा में ड्रोन हासिल हुए हैं। इन्हीं ड्रोन के जरिए पड़ोसी मुल्क, पंजाब में रोजाना ड्रग्स व हथियार भेज रहा है। सीमा पार पाकिस्तानी इंटेलिजेंस एजेंसी ‘आईएसआई’ द्वारा ड्रोन भेजने के लिए वहां के आतंकी संगठनों एवं तस्करों को तकनीकी मदद दी जाती है। केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी के उच्चपदस्थ सूत्रों का कहना है, पाकिस्तान और चीन का यह खेल तो अब सभी के सामने है। इसमें कहीं कोई शक नहीं है। पाकिस्तान को चीन से ड्रोन की बड़ी खेप हासिल हुई है। हालांकि इन ड्रोन की खरीद का कोई वित्तीय मेकेनिज्म नजर नहीं आता। संभव है कि दोनों मुल्कों के बीच किसी अन्य समझौते की बदौलत ये ड्रोन पाकिस्तान पहुंचे हैं। 

कुछ महीने पहले तक सप्ताह में पाकिस्तान की तरफ से पंजाब में दो चार ड्रोन आते थे, अब पिछले कुछ समय से लगातार ड्रोन आ रहे हैं। कई बार तो एक ही दिन में कई ड्रोन छोड़े जा रहे हैं। बीएसएफ द्वारा मार गिराए गए अधिकांश ड्रोन, क्वाडकॉप्टर (मॉडल डीजेआई मेविक 3 क्लासिक, मेड इन चाइना) और क्वाडकॉप्टर (मॉडल डीजेआई मैट्रिस 300 आरटीके, मेड इन चाइना) सीरिज के होते हैं।

पाकिस्तान रेंजर्स को सौंपा नागरिक

बीएसएफ ने एक पाकिस्तानी नागरिक को पाकिस्तान रेंजर्स को सौंप दिया। 10 मई को बीएसएफ के जवानों ने अमृतसर के पास भारत-पाकिस्तान सीमा से एक घुसपैठिए को पकड़ा। तलाशी के दौरान उसके पास से कोई भी आपत्तिजनक वस्तु नहीं मिली। 11 मई को मानवीय आधार पर उस व्यक्ति को पाकिस्तान रेंजर्स को सौंप दिया गया। 

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here